Six Secrets That Experts Of Psychology In Hindi yo must know

Six Secrets That Experts Of Psychology In Hindi yo must know

फोन नंबर याद रखो। Psychology In Hindi

फोन नंबर्स को मन में याद रखो जी हां फोन नंबर को सेव कर लो वह मना नहीं कर रहा पर जब डायल करने की बारी आई तो कांटेक्ट में जाने के बदले टाइप करके फोन लगाओ आपको लग रहा होगा यह तो कुछ खास पॉइंट नहीं है । Psychology In Hindi पर दोस्त आपको अंदाजा नहीं है कि जब आप बहुत सारे 10 नंबर की जोड़ी को याद रखते हो जिसे हम फोन नंबर कहते हैं यह आप के दिमाग पर कितना प्रभाव डालता है यह आपके मेमोरी को कई गुना ज्यादा तेज कर देता है ।

आपको पता है कि आपकी मेमोरी यानी याद करने की शक्ति क्यों कमजोर हो जाती है । वह इसलिए क्योंकि आप अपने मेमोरी का इस्तेमाल नहीं करते हो इसलिए फोन नंबर को आराम से सेव कर लो बात मैं क्वेश्चंस में केलकुलेटर उठा लो बस तो यदि आसान चीजें करते रहोगे तो आपका दिमाग और मेमोरी का एक्सरसाइज कैसे होगा अगर किसी मशीन को चलाया ही नहीं जाए तो ठीक से काम नहीं करते मेंटेनेंस करो

तेल डलवाओ तब जाकर वह मशीन काम करेगी और आप यहां सालों से दिमाग का ऑप्टिमम इस्तेमाल ना करके शॉर्टकट्स को यूज करते हैंतो कैसे काम चलेगा कि सभी फोन नंबर उसको याद रखो दिमाग में ही हर एक नाम के साथ एक फोन नंबर जोड़ दो कि हां यह मेरी मम्मी का नंबर है। और यह सुनीता का ऐसे आप के दिमाग के अंदर ही एक मैप बनी रहेगी और इसका इस्तेमाल लगभग रोज करोगे तो आप की स्मरण शक्ति यानी मेमोरी पावर हमेशा बढ़ी हुई रहेगी । Psychology In Hindi

ग्रिटीट्यूड की भाव ना रखो । Psychology In Hindi

जब आप आए ग्रिटीट्यूड शुक्रिया की भावना रखो । मैंने पहले भी बताया है। मतलब इस ब्रह्मांड को उनके लिए थैंक्स बोलना शुक्रिया कहना जो चीज आपके पास पहले से है यह चीज दिमाग को तेज करता है। आप कहोगे कैसे असल में जब आप उन चीजों के लिए शुक्रवार या थैंक्स बोलते हो जो आपके पास पहले से ही है ।

तो आपके दिमाग के केमिकल्स को बैलेंस में लाने में हेल्प करता है ग्रिटीट्यूड से आप पॉजिटिव होते हो आप ज्यादा खुश रहने लगते हो आप कमेंट में मुझसे पूछते हो कितना गुस्से को कैसे कंट्रोल करें कैसे हमेशा खुश रहे हैं। गुस्सा मतलब दिमाग का डिसबैलेंस केमिकल तो जवाब ग्रिटीट्यूड थैंकफूल है शुक्रिया कहते हो तब दिमाग के अंदर की केमिकल बैलेंस में आने लगती है और इस अवस्था में आपका फोकस और इंटेलिजेंस दोनों बड़ जाता है । Psychology In Hindi

अगर आप उन चीजों के लिए ग्रेटफुल नहीं रहोगे जो आपके पास पहले से ही मौजूद हैं तब आपको वह चीजें भी नहीं मिल सकती जो आप चाहते हो, एक रिपोर्ट पब्लिश हुई थी इसमें यह पता चला था कि जो लोग 80 या 90 साल तक जीते हैं उनका सीक्रेट यही है।

आपको यकीन नहीं होगा जो लंबी उम्र जीते हैं 90 साल 100 साल उनमें से ज्यादातर लोग उस चीज के लिए इस ब्रह्मांड को थैंक्स बोलते थे जो उनके पास पहले से ही है और इसके चलते उन लोगों को उनकी लाइफ में सब कुछ मिल गई जो चाहते थे क्योंकि वह हमेशा उन चीजों के लिए खुश रहते हैं और थैंकफूल होते थे जो उनके पास पहले से ही है मतलब यह आपके दिमाग ही नहीं पूरे शरीर पर पॉजिटिव सकारात्मक प्रभाव डालता है।Psychology In Hindi

लंबी – लंबी सासे लो |

मॉर्निंग एक्सरसाइज करो गहरी सांस को जो आपके लिए सबसे जरूरी है । ऑक्सीजन आपके दिमाग के लिए कितना जरूरी है। इसका आपको कोई अंदाजा नहीं है। बहुत लोग कहते हैं कि वह हमेशा कहते रहते है । उनका दिमाग हमेशा भारी फील करता है। जाम लगता है दिमाग में ट्रैफिक जाम हो चुका है इसका नंबर वन कारण है । ऑक्सीजन की कमी और ऑक्सीजन का संचालन के मामले में आपका दिमाग आपके शरीर का सिर्फ 2% है।

और यह आपके शरीर के पूरे ऑक्सीजन का इस्तेमाल करता है इसका मतलब आप के दिमाग का पेट्रोल है आपके लिए बहुत जरूरी है।

सुबह उठने के बाद दो-तीन मिनट मेडिटेशन की पोस मै बैठकर सांस लेना इससे आपके दिमाग में नार्मल के मुताबिक ज्यादा ऑक्सीजन पहुंचेगी और दो-तीन मिनट से ही इसका प्रभाव आपके दिमाग और शरीर पर दिन भर और इसके चलते आपको पढ़ाई में मन लगेगा अगर जवाब यह है। Psychology In Hindi

आप अच्छे से काम कर पाओगे और थकावट नहीं होगी क्योंकि सुबह सुबह ऑक्सीजन से अपने शरीर को पावरफुल करलिया है इसलिए गहरी सांस जरूर करें। अपनी रात के सपनों को फिर से याद करे।

सपनों को रिव्यू करो।

सपनों को रिव्यू करो सुनने के बाद आप यह कहोगे कि शायद सपनों को याद क्यों करो इसके पीछे की वजह यह है । कि आपका दिमाग दिन भर बिजी रहता है। अपने कामों को करने में क्या पढ़ाई कर रहे हो क्या बिजनेस पर बात यह है।

कि जितना एक्टिव आपका दिमाग दिन के वक्त रहता है इतनी हलचल दिन में आप के दिमाग के अंदर होती है । लगभग उतनी ही हलचल रात को जब आप सोते हो तब भी होती है मैंने लगभग का मतलब हलचल थोड़ी सी कम होती है । Psychology In Hindi

पर अच्छी खासी हलचल सोते वक्त भी होती है पर यह हलचल में आपके बहुत काम की है पर यह हलचल जब आप सोते हो तब आपका सबकॉन्शियस दिमाग अंदर ही अंदर काम करता रहता है और आपकी प्रॉब्लम का सलूशन ढूंढने लगता है। आपके दिमाग में सोते वक्त भी कुछ ना कुछ चलता रहता है चलता रहता है और तभी आपको उसी दौरान सपने आते हैं ।

और सपनों को आप इग्नोर कर देते हो और प्रॉब्लम यह है कि ज्यादातर लोग अपने सपनों को याद ही नहीं रख पाते सुबह उठने के साथ ही भूल जाते हैं पर जिस तरह मोबाइल नंबर याद करने से आपका मेमोरी स्टिम्युलेट होता है।

उसी तरह जब आप सपनों को याद करने की कोशिश करते हो जब आप अपने दिमाग के बड़े गहरे स्तर को टच करते हो जिससे आप की स्मरण शक्ति तेज होती है । इसलिए सुबह उठने के बाद थोड़ा सोचो कि आज मैंने सपने में क्या देखा

अपने शरीर को हाइड्रेट करो।

तीन से चार गिलास पानी पियो प्रोबेबली नहीं एक्चुअली में आपके दिमाग के लिए सबसे जरूरी चीज है । आपका दिमाग 73% पानी का बना हुआ है ।

पर हम में से ज्यादातर लोग इस बात पर ध्यान नहीं देते आपको यह पानी वाला फैक्ट पता है तभी आप इस पर ध्यान नहीं देते सिर्फ इसी पॉइंट के लिए नहीं असल में जितने टिप्स है दिमाग तेज करने के सब कहीं ना कहीं आपको पहले से ही थोड़ा मुड़ा पता है ।

कॉमन बातें हैं यह पर असल मैं उसी चीज को आप को फिर से याद दिला रहा हूं ताकि आप इन के फायदों को गहराई से समझें और कम से कम इसे करना शुरू करो ताकि आपका brainएक सुपर brain बन सके

मल्टीटास्किंग को बंद करो ।

एक बार में एक ही काम पर फोकस करो आज कल की दुनिया में यह बहुत वर्ड चला है मल्टी टास्किंग मतलब एक साथ बहुत सारे कामों को संभालना एंड्रॉयड फोन में एक टैब में व्हाट्सएप खोल लेते हो एक टैब में ब्राउज़र में डाउनलोडिंग हो रहा है।

और एक टैब में वीडियो एडिट हो रहा है ना आपका दिमाग एक समय में एक ही काम करने के लिए बना है दो नावों पर पैर रखोगे तो ना घर के रहोगे डायलॉग बहुत पुराना हो गया यार कुछ नया बोलता हूं ना धरती के रहोगे और ना ही मंगल के जो मैंने कल करूंगा वाले में बोला था ना कि जवाब एक काम कर रहे हो तो दूसरे के बारे में मत सोचो उसी से रिलेटेड है।

1 thought on “Six Secrets That Experts Of Psychology In Hindi yo must know”

Leave a comment